Monday, 21 December 2015

2015 में मोदी सरकार की योजनाएं,जिनसे है जन-जन का सरोकार


संदीप कुमार मिश्र : साल 2015 अपने अंतिम पड़ाव की ओर बढ़ चला है। ऐसे में कांग्रेस को सत्ता से उखाड़ फेंकने वाली मोदी सरकार की साल के अंतिम पड़ाव पर समीक्षा भी होगी और सरकार के भविष्य की योजनाओं पर नजर भी।आईए जानते हैं आम आदमी से जुड़ी कुछ खास सामाजिक और आर्थिक योजनाएं।जिनसे है देश की आवाम का सरोकार-
स्वर्ण मौद्रीकरण योजना का शुभारंभ

देश की नई नवेली सरकार यानि मोदी सरकार अच्छे दिन के वादे को पूरा रने के लिए पीएम श्री नरेन्द्र मोदी ने तीन स्वर्ण संबंधी योजनाओं का शुभारंभ किया। इन योजनाओं का नाम है :स्वर्ण मौद्रीकरण योजना, सार्वभौम गोल्ड बांड योजना के साथ ही भारतीय स्वर्ण सिक्का। आपको बता दें कि बैंक में डिपाजिट रखे गए सोने पर ब्याज प्राप्त होगा, और वह पूंजी लाभ सहित कई अन्य करों से मुक्त होगा। मोदी सरकार की ये पहल देश में अपने तरह की पहली योजना है।पीएम का कहना है कि, कोई ऐसा कारण नहीं है कि भारत को गरीब देश कहा जाए, उसके पास 20,000 टन सोना है।इस प्रकार से इस योजना को जनहीत के लिए शुरु किया गया।

डिजिटल इंडिया की सार्थक पहल

पीएम मोदी ने अपने सबसे महत्वाकांक्षी योजना 'डिजिटल इंडिया' को जुलाई में लॉन्च किया।साथ ही पीएम मोदी ने ई-लॉकर सर्विस को भी विधिवत लॉन्च किया। प्रधानमंत्री जी का कहना है कि डिजिटल इंडिया कैंपेन से अब ई-गवर्नेंस ही नहीं बल्कि एम-गवर्नेंस यानी मोबाइल गवर्नेंस का रास्ता भी आसान होगा।पीएम का कहना था कि कॉरपोरेट सेक्टर भी डिजिटल इंडिया कैंपेन में 4.5 लाख करोड़ रुपए का निवेश करेगा।इसका सबसे बड़ा लाभ शिक्षित वेरोजगारों को मिलेगा,क्योंकि इस योजना से 18 लाख लोगों को नौकरियां मिलेंगी।आपको बता दें कि केंद्र सरकार की इस योजना से ग्राम पंचायतों को ब्रॉडबैंड से जोड़ने का लक्ष्य रखा गया है।इस मुहिम में मशहूर उद्योगपति मुकेश अंबानी ने 250 हजार करोड़ के निवेश का एलान किया।इस योजना से सबसे बड़ा लाभ दूरदराज के गांवों को मिलेगा और शिक्षा के स्तर में सुधार होगा।

स्मार्ट सिटी योजना

सबका अपना मकान हो,देश में जन जन की जीवन शैली में सुधार हो इसी प्रण और संकल्प को पूरा करते हुए प्रधानमंत्री जी ने स्मार्ट सिटी समेत तीन बड़ी योजनाओं 25 जून 2015 को लांच किया। अटल मिशन, स्मार्ट सिटी मिशन और सभी के लिए आवास मिशन की शुरूआत की गई । स्मार्ट सिटी परियोजना के तहत देशभर में 100 स्मार्ट शहर बसाने की प्लानिंग है।साथ ही देश के 500 शहरों का कायाकल्प करने की भी योजना है।आपको बता दें इन शहरों में हर प्रकार की सुविधाएं मुहैया कराई जाएंगी। आवास योजना के तहत 2022 तक देश के तमाम परिवारों को अपना घर मुहैया करवाया जाएगा।वहीं देश के सबसे बड़े सूबे उत्तर प्रदेस को इस योजना से सबसे ज्यादा लाभ मिलेगा।स्मार्ट सिटी योजना के तहत यूपी में 13 स्मार्ट सिटी, तमिलनाडु में 12 और महाराष्ट्र में 10 स्मार्ट सिटी बनाए जाएंगे। 100 स्मार्ट सिटी पांच साल के भीतर विकसित किये जाएंगे और सभी के लिए आवास योजना के तहत अगले 7 साल में दो करोड़ मकानों का शहरी क्षेत्रों में निर्माण कराना है।उम्मीद की जानी चाहिए कि मोदी सरकार की इस पहल को जल्द से जल्द अमली जामा पहनाया जाएगा और आमजन का घर का सपना होगा पूरा।
प्रधानमंत्री मुद्रा बैंक योजना

मोदी सरकार की सबसे बड़ी प्राथमिकता हर हाथ काम है,इसी सपने को साकार करने के लिए पीएम मोदी ने 8 अप्रैल 2015 को देश में छोटे-छोटे कारोबार करने वाले लोगों के लिए मुद्रा बैंक योजना की शुरुआत की।मुद्रा बैंक यानी माइक्रो यूनिट्स डेवलपमेंट फंड रिफाइनेंस एजेंसी है। प्रधानमंत्री मुद्रा योजना में 10 लाख रुपये तक के सस्ते लोन दिए जाएंगे। शुरुआती दौर में मुद्रा बैंक सिडपी की यूनिट के तौर पर काम करेगी। प्रधानमंत्री मुद्रा योजना के तहत 3 तरह के लोन मिलेंगे। इनके नाम होंगे शिशु, किशोर और तरुण। शिशु योजना के तहत 50 हजार रुपये तक के लोन दिए जाएंगे। किशोर योजना के तहत 50 हजार रुपये से 5 लाख रुपये तक के लोन दिए जाएंगे। तरुण योजना के तहत 5 लाख रुपये से 10 लाख रुपये तक के लोन दिए जाएंगे। मुद्रा बैंक से मिलने वाली योजना का लाभ देश के करीब 5 करोड़ 77 लाख छोटे कारोबारी ले सकेंगे।साथ ही इस योजना से सब्जी वालों, सैलून, खोमचे वालों को भी लाभ मिलेगा वो भी लोन ले सकेंगे।


प्रधानमंत्री सुरक्षा बीमा योजना

देश में आए दिन दुर्घटना होती रहती है,जिससे जानमाल की हानी होती है। प्रधानमंत्री सुरक्षा बीमा योजना की शुरुआत इसीलिए की गई।इस योजना के तहत आम जनमानस मात्र 12 रुपए के सलाना प्रीमियम पर बीमा करवा सकता है।इस योजना में मृत्यु हो जाने पर 2 लाख का दुर्घटना कवर दिया जाएगा साथ ही दुर्घटना के दौरान विकलांग होने पर 1 लाख का कवर दिया जाएगा।वहीं आंखों की रोशनी चले जाने पर पीड़ित को 2 लाख रुपए मिलेंगे।इस योजना का लाभ लेने के लिए बैंक में बचत खाता होना अनिवार्य है।
प्रधानमंत्री जीवन ज्योति बीमा योजना

एक तरफ जहां प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने दुर्घटना बीमा की शुरुआत की वहीं देश की गरीब जनता के लिए जीवन बीमा योजना की भी शुरुआत की।जिसे नाम दिया गया प्रधानमंत्री जीवन ज्योति बीमा योजना।हमारे देश के 18 से 50 साल की उम्र के नागरिक इस योजना का लाभ उठा सकते हैं।इस योजना में आपको करना सिर्फ ये है कि सालाना मात्र 330  रुपए का प्रीमियम आपको जमा करना है।इस योजना  के तहत मृत्यु के बाद 2 लाख का बीमा कवर तय किया गया है। इस योजना में देश के वरिष्ठ नागरिकों को शामिल नहीं किया गया।इस योजना के तहत कोई शख्स एक से ज्यादा बैंक खातों पर इस योजना का लाभ नहीं उठा सकता।
अटल पेंशन योजना

आम आदमी जो सरकारी नौकरी में नहीं हो,उसके लिए 60 की उम्र के बाद जीवन को आगे बढ़ाना मुस्किल भरा हो जाता है,जिसके लिए पीएम मोदी ने अटल पेंशन योजना की शुरुआत की जिसके तहत 60 साल की उम्र के बाद पेंशन का प्रावधान किया गया। 18 से 40 साल की उम्र के लोग इस योजना के लिए रजिस्ट्रेशन करा सकते हैं। इसके तहत आपको 20 साल या उससे ज्यादा योगदान देना होगा। और रिटायरमेंट के बाद आप न्यूनतम 1000, 2000, 3000, 4000 या 5000 रुपये के बीच पेंशन का लाभ उठा सकेंगे। यही नहीं इस स्कीम में मृत्यु के बाद पेंशन की रकम आश्रित के खाते में भी जाएगी।निश्चित तौर पर मोदी सरकार की इस योजना का लाभ देश के वृद्धजनो को मिलेगा।  
किसानों को डेढ़ गुना ज्यादा मुआवजा

एक किसान जो दिनरात एक करके हमारे लिए अन्न उपजाता है लेकिन बेमौसम बरसात और मौसम की मार सब कुछ नष्ट कर देती है इसी को ध्यान में रखते हुए मोदी सरकार ने एक बड़ा फैसला लिया।जिसके तहत कर्ज में डूबे किसानों को डेढ़ गुना ज्यादा मुआवजा दिया जाएगा। इस साल करीब गेहूं की 40 फीसदी फसल को नुकसान हुआ। जिसका न्यूनतम मूल्य तकरीबन 65000 करोड़ के आसपास था। पिछले साल तक किसानों को 50 फीसदी फसल की बर्बादी पर ही मुआवजा दिया जाता था। लेकिन मोदी सरकार ने इस आंकड़े को घटाकर 33 फीसदी तक कर दिया। सिर्फ यही नहीं सरकार ने मुआवजे की रकम को भी डेढ गुना बढ़ा दिया। इतना ही नहीं सरकार ने किसानों के लिए मुआवजा की प्रक्रिया को भी आसान बनाया, ताकि कर्ज की मार से परेशान किसानों को सरकार दफ्तरों के चक्कर न लगाने पड़ें। देश के किसानो के लिए मोदी सरकार की ये पहल किसी मिल के पत्थर से कम नहीं है।


अंतत: मोदी सरकार द्वारा चलाई जा रही इन योजनाओं की फेहरिस्त लंबी है,जो जनहीत में है।उम्मीद ही नहीं विश्वास करना चाहिए,प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा चलाई जा रही इस प्रकार की योजनाओं से एक भारत,श्रेष्ठ भारत का सपना जरुर साकार होगा...।