Friday, 17 November 2017

जाने क्या करें उपाय:जिससे शनि महाराज हों प्रसन्न:साढ़ेसाती,ढैय्या से मिले शांति

संदीप कुमार मिश्र: ऊं शं शनिश्चराय नम: ।भगवान शनिदेव की महिमा अपरंपार है।कहते हैं शनि महाराज की कृपा बनी रहे तो सभी बिगड़े काम बन जाते है और यदि हमारी कुंडली में शनि देव बिगड़ जाए हो तो हमारे जीवन में कष्टों का पहाड़ टूट पड़ता है।
शनि के बुरे प्रभाव से अर्थ यानि धन की कमी होती है,जिससे कर्जे में वृद्धि होती जाती है। खर्चे निरंतर बढ़ जाते हैं। ऐसे में अगर आमदनी बहुत कम हो गई है या घर में कलेश रहता है या फिर लड़ाई-झगड़े या मुक़दमे लगातार बने रहते हैं, सेहत ठीक नहीं रहती है तोशनि देव को प्रसन्न रखने के लिए कुछ उपाय अवश्य करने चाहिए-
पहला उपाय
शनि के प्रभाव को कम करने और कष्टों से बचने के लिए काले घोड़े के नाल का प्रयोग करना चाहिए। क्योंकि सड़क पर दौड़ते-दौड़ते वह लोहे की नाल घिसती जाती है और अपने आप गिर जाती है,जिससे वो एक चमत्कारी वस्तु बन जाती है।इसके प्रयोग से चमत्कारिक लाभ मिलते हैं। शनि को प्रसन्न करने के लिए काले घोड़े का नाल पहना जाता है। घोड़े के नाल का छल्ला बनाकर बीच वाली उंगली में पहनना चाहिए।ऐसा करने से चमत्कारीक लाभ मिलता है।
दूसरा उपाय
हमें अपनी क्षमता के अनुसार शनिवार की शाम को एक या दो गरीबों को भरपेट भोजन अवश्य कराना चाहिए। भोजन में रोटी पराठे चावल सब्जी दाल होना चाहिए।भोजन के पश्चात मिठाई और खीर भी खिलानी चाहिए। साथ ही उसे कुछ धन का दान भी देना चाहिए।
तीसरा उपाय
शनिवार को कुछ खास चीजें  भी अवश्य दान करनी चाहिए।जैसे शनिवार को काजल,काला कंबल और लोहे के चाक़ू का हमें दान करना चाहिए।रात को किसी गरीब या जरूरत मंद को कंबल ओढ़ा देंना चाहिए।किसी निर्धन या जरूरतमंद को 8 काजल की डिब्बी दान करनी चाहिए और लोहे के पांच चाक़ू दान करें जो कि किसी लोहार से ही खरीदी गई हो।
चौथा उपाय
हम सब जानते हैं कि बाल शनि का कारक होता है।ऐसे में शनिवार के दिन बाल कटवाने से शनिदेव शांत होते हैं।इसलिए बाल कटवाकर शनि को शांत करने के लिए किसी शनि मंदिर में जाकर शनिदेव का हवन करना चाहिए।ध्यान रखें हवन में आम की लकड़ी जलाकर हवन सामग्री और काले तिल की ही आहुति दें।


ऐसा करने से शनि देव की कृपा आप पर सदैव बनी रहेगी।और आपका जीवन सुखमय बितेगा।                                       ।।जय शनिदेव।।